Tag: Hindi Stories

Hindi Story, Essay on “Swavlamban ki Bhawna ”, “स्वावलम्बन की भावना” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

स्वावलम्बन की भावना Swavlamban ki Bhawna    जीवन में वही व्यक्ति महान् बनता है जो व्यक्ति दूसरों पर निर्भर नहीं करता। अपने हाथों से स्वयं काम करके सन्तुष्ट होता …

Hindi Story, Essay on “Jaise ko Taisa”, “जैसे को तैसा” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

जैसे को तैसा Jaise ko Taisa   हम जिस प्रकार के व्यवहार की दूसरों से इच्छा रखते हैं उन से वैसा ही व्यवहार करे। छल-कपट से दूसरों को परेशानी …

Hindi Story, Essay on “Kar Bhala So Ho Bhala”, “कर भला सो हो भला” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

कर भला सो हो भला Kar Bhala So Ho Bhala   यदि हम चाहते हैं कि संकट में हमारी कोई सहायता करे तो हमें भी कष्ट में उनकी सहायता …

Hindi Story, Essay on “Murakh Mitra se Budhiman Shatru Accha ”, “मूर्ख मित्र से बुद्धिमान शत्रु अच्छा” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

मूर्ख मित्र से बुद्धिमान शत्रु अच्छा Murakh Mitra se Budhiman Shatru Accha  कभी-कभी मूर्ख मित्र का साथ मुसीबत का कारण कम जाता है जबकि बुद्धिमान शत्रु मुसीबत के समय …

Hindi Story, Essay on “Mitra vahi jo Musibat me Kaam Aaye”, “मित्र वही जो मुसीबत में काम आए” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

मित्र वही जो मुसीबत में काम आए Mitra vahi jo Musibat me Kaam Aaye   मित्र तो बहुत मिलते हैं परन्तु सच्चा मित्र मिलना कठिन है। सुःख में सभी …

Hindi Story, Essay on “Dusht ke sath Dushta ka Vyahvar karna Chahiye”, “दुष्ट के साथ दुष्टता का व्यवहार करना चाहिए” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

ऊँट और गीदड़ Unth aur Gidad   किसी जंगल में एक गीदड तथा ऊँट रहते थे। दोनों में मित्रता थी। ऊँट सीधा-सादा था पर गीदड अत्यन्त दुष्ट । गीदड़ …

Hindi Story, Essay on “Ekta me Bal Hai”, “एकता में बल है” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

एकता में बल है Ekta me Bal Hai   एक बार किसी शिकारी ने जंगल में दाने बिखेरे तथा उधर से जाल भी फैला दिया। कबूतरों का एक झुण्ड …

Hindi Story, Essay on “Do Hans aur Kachuva ”, “दो हंस तथा कछुआ” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

दो हंस तथा कछुआ Do Hans aur Kachuva    एक स्थान परएक तालाब में दो हंस तथा एक कछुआ रहते थे। इन तीनों में गहरी दोस्ती थी। कछुआ अत्यन्त …

Hindi Story, Essay on “Sher aur Chuhiya”, “शेर और चुहिया” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

शेर और चुहिया Sher aur Chuhiya    किसी जंगल में एक शेर रहता था। एक दिन वह दोपहर को वृक्ष के नीचे विश्राम कर रहा था,तभी एक छोटा चूहा …

Hindi Story, Essay on “Bander aur Magarmach”, “बन्दर और मगरमच्छ” Hindi Moral Story, Nibandh, Anuched for Class 7, 8, 9, 10 and 12 students

बन्दर और मगरमच्छ Bander aur Magarmach   किसी नदी के किनारे जामन का एक पेड़ था जिस पर बंदर रहा करता था। वह रोज जामुन के मीठे-मीठे फल खाया …