Hindi Essay on “Plastic ki Duniya”, “प्लास्टिक की दुनिया”, for Class 10, Class 12 ,B.A Students and Competitive Examinations.

प्लास्टिक की दुनिया

Plastic ki Duniya 

 

आज प्लास्टिक से मनुष्य का गहरा संबंध हो गया है। प्लास्टिक के बर्तन, प्लास्टिक के खिलौने, प्लास्टिक की वाशिंग मशीन, फ्रिज, कंप्यूटर, मोबाइल फ़ोन आदि अनेक वस्तुएँ हैं जिनका हम प्रतिदिन इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके अतिरिक्त प्लास्टिक की थैली का चलन तो आजकल बहुत हो रहा है। हम बाजार से कोई चीज खरीदने जाते। हैं, चाहे वह सब्जी हो, दुध हो, दही हो, दाल हो- सब कुछ हमें प्लास्टिक की थैली में ही मिलता है जिसमें दूध, ब्रेड आदि तो पहले से ही प्लास्टिक की थैली में पैक होते हैं। हालाँकि सरकार प्लास्टिक की थैली के इस्तेमाल पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगा देना चाहती है परंतु वह अपने इस प्रयास में अभी तक पूर्णतः सफल नहीं हो पाई है। वैसे अपने हित के बारे में तो सबको सोचने का अधिकार है और हमारा सबका हित इसी में है कि हम कम से कम रंगीन थैलियों का इस्तेमाल करें क्योंकि प्लास्टिक की ये रंगीन थैलियाँ प्रयोग की गई थैलियों से बनाई जाती हैं इसलिए ये अत्यधिक विषैली और स्वास्थ्य के लिए अत्यंत हानिकारक होती हैं। इसी प्रकार प्लास्टिक के रंगीन खिलौने छोटे बच्चों के लिए अत्यंत हानिकारक होते हैं, क्योंकि वे उन खिलौनों को हमेशा अपने मुँह में डालते रहते हैं। निष्कर्षतः यदि हम प्लास्टिक की वस्तुओं का इस्तेमाल पूर्ण रूप से बंद नहीं कर सकते तो अपने स्वास्थ्य को दृष्टि में रखते हुए हम प्लास्टिक का प्रयोग कम अवश्य कर सकते हैं।

One Response

  1. SANDHYA JAIS January 23, 2020

Leave a Reply