Hindi Essay on “Ghumati Prithavi”, “घूमती पृथ्वी”, for Class 5, 6, 7, 8, 9 and Class 10 Students, Board Examinations.

घूमती पृथ्वी

Ghumati Prithavi

पृथ्वी या धरती सूरज के आस-पास घूमनेवाले ग्रहों में से तीसरा ग्रह है। यही एक ऐसा ग्रह है जहाँ जीव रह सकते हैं।

धरती सूर्य से बिलकुल उचित दूरी पर है जिससे यहाँ का तापमान न कम है, न अधिक। सूरज के आस-पास घूमती पृथ्वी पर चार ऋतुएँ आती हैं। यह हैं – सरदी, वसंत, गरमी और वर्षा ऋतु ।

सूरज के आस-पास घूमने के अलावा पृथ्वी स्वयं भी घूमती है। इससे दिन और रात होते हैं।

पृथ्वी पर हरियाली, पानी और सभी जीव-जंतु एक संतुलन में रहते हैं। हमें इसे बना कर रखना है, बिगाड़ना नही है। वृक्ष लगाकर, पानी की बचत कर और प्रदूषण रोक कर हम अपनी पृथ्वी का संतुलन सदा बनाए  रख सकते हैं।

Read More  Hindi Essay on “Kavi Surdas”, “कवि सूरदास ”, for Class 10, Class 12 ,B.A Students and Competitive Examinations.

Leave a Reply