Hindi Essay on “Meri Abhilasha ”, “मेरी अभिलाषा”, for Class 5, 6, 7, 8, 9 and Class 10 Students, Board Examinations.

मेरी अभिलाषा

Meri Abhilasha 

निबंध नंबर :- 01

बचपन से ही हमसे एक सवाल लगातार किया जाता है कि हम बड़े हाकर क्या बनेंगे? हमारे माता-पिता भी हमें हमारे भविष्य के सपने दिखाते। हैं। मेरे माता-पिता के बढ़ावे से मैं भी कुछ बनने का सपना देखता हूँ। 

मैं तीसरी कक्षा का छात्र हैं पर अपनी चित्रकारी से मैंने अपने बड़ों को बहुत प्रसन्न किया है। मेरे चित्रों को हमारे वार्षिक उत्सव में भी लगाया गया था।

मेरे माता-पिता दिल्ली के प्रसिद्ध हॉल में मेरे चित्रों की प्रदर्शनी करने की तैयारी कर रहे हैं। मैंने एक महान चित्रकार से इस कला में शिक्षा लेनी शुरू की है। सभी कहते हैं कि मेरी आयु के विपरीत मेरे चित्र बहुत भावुक होते हैं।

मैं बड़े होकर भी चित्रकारी में नए कीर्तिमान बनाना चाहता हूँ। मुझे अपने बड़ों के सहयोग और अपनी लगन पर पूरा विश्वास है।

 

निबंध नंबर :- 02

 

मेरी अभिलाषा

Meri Abhilasha

जीवन में हम सब का कुछ उद्देश्य और अभिलाषा होती है। छोरा बड़ा. हमारा कुछ-न-कुछ लक्ष्य होता है जिसे हम प्राप्त करना चाहते हैं करना चाहते हैं। जहाँ तक मेरी बात है, मुझे दौलत या ऊँचे पद की अभिलाषा नहीं है। अपने राष्ट्र की सेवा करना ही मेरे जीवन का एकमात्र लक्ष्य है। मैं डॉक्टर बनकर अपने देश और देशवासियों की सेवा करना चाहता हूँ।

वैसे तो मैं अभी बहुत छोटा हूँ और पाँचवीं कक्षा में पढ़ता हूँ मगर मैंने सोच लिया है कि मैं डॉक्टर बनूँगा। मैं कमजोर. बीमार और निर्धनों का सहायता करना चाहता हूँ क्योंकि वे अपने इलाज के लिये पैसे नहीं खर्च सकते। मैं उनका निःशुल्क इलाज करूंगा। डॉक्टर बनने की मेरी अभिलाषा अगर पूर्ण हो गयी तो मैं उत्कृष्ट काम करूंगा। अच्छे अंक प्राप्त करने के लिये मैं अभी से बहुत मेहनत कर रहा हूँ। अच्छे अंक प्राप्त करक ही मै मेडिकल कॉलेज में दाखिला ले पाऊंगा।

मैं विद्यालय की जूनियर रेडक्रॉस सोसायटी का सदस्य हूँ। उसकी सभी गतिविधियों में मैं सक्रिय हिस्सा लेता हूँ और रुचि रखता हूँ। मुझे प्राथमिक उपचार एवं नसिंग के विषय में काफी जानकारी है और यह प्रशिक्षण आगे चलकर मेरे काम आयेगा।

मैं एक आदर्श डॉक्टर बनना चाहता हूँ। यह एक महान व्यवसाय है जो स्वयं अपना पुरस्कार है।

One Response

  1. Ayush Kumar Rout Ray. September 18, 2021

Leave a Reply